Saturday, 10 May 2014

DR. PRATIBHA SOWATY: सेदोका : बचपन

DR. PRATIBHA SOWATY: सेदोका : बचपन:



  गुड्डे -  गुड़िया !

 खेले  थे घर - घर !

 अब गया बिसर !



 यादों के पर !

 ये  उड़- उड़ कर !

 आएं अक्सर !

 ----------------------- डॉ. प्रतिभा स्वाति