Monday, 20 June 2016

बुलेट ट्रेन .....









 बुलेट ट्रेन _ (ndtv india )
_____________:मुंबई-अहमदाबाद के बाद दूसरी बुलेट ट्रेन दिल्ली-वाराणसी के बीच चल सकती है। यदि ऐसा हुआ तो दोनों शहरों के बीच 782 किमी की दूरी सिर्फ 2 घंटे 40 मिनट में तय हो जाएगी।
___________वातानुकूलित प्रथम श्रेणी के वर्तमान किराए का डेढ़ गुना प्रस्तावित किया है।  अभी मुंबई और अहमदाबाद के बीच दुरंतो एक्सप्रेस में प्रथम श्रेणी एसी का किराया 2,200 रुपये है। इसका मतलब यह हुआ कि बुलेट ट्रेन का किराया 3,300 रुपये होगा। दोनों शहरों के बीच की दूरी 508 किलोमीटर है।
 ____________ परियोजना पर कुल 97,636 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है।
 _____________सरकार ने जापान से 0.1 फीसदी ब्याज दर पर एक लाख करोड़ रुपये का ऋण लिया .
 ______________
'डेडिकेटेड हाई स्पीड रेलवे (एचएसआर) नेटवर्क इन इंडिया (इशूज इन डेवलपमेंट) शीर्षक वाली रिपोर्ट में कहा कि रेलवे को कर्ज और ब्याज समय पर चुकाने के लिए परिचालन शुरू होने के 15 वर्ष बाद तक 300 किलोमीटर की यात्रा के लिए टिकट का मूल्य 1500 रुपया निर्धारित करना होगा और प्रतिदिन 88,000-1,18,000 यात्रियों को ढोना होगा।
 ______________
 
जापान ने परियोजना लागत के लगभग 80 प्रतिशत हिस्से के रूप में 97,636 करोड़ रुपये के रियायती ऋण की पेशकश की है। जापान के प्रस्ताव के अनुसार ऋण को 50 वर्ष के भीतर चुकाना होगा और परिचालन शुरू होने के 16वें वर्ष से 0.1 प्रतिशत की दर से ब्याज देना होगा। रिपोर्ट के लेखकों के अनुसार शेष 20 प्रतिशत ऋण के लिए आठ प्रतिशत की औसत ब्याज दर होगी। उनके अनुसार जापान ने 15 वर्ष का ऋण अवकाश दिया है, इसलिए रेलवे के लिए राजस्व की चिंता 16वें वर्ष से शुरू होगी। यह ट्रेन कुल 534 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।
_______________________________________



 ___________        तो भई बात यूँ है कि जिस मामले में आप कुछ न कर
 सकते हों वहां पर चुप रहा जाना चाहिए . ऐसा हमारे
 बुजुर्गों  ने कहा है . पर बुज़ुर्ग तो ये भी कह गए कि.....उधार ....___
उधार लेकर घी नहीं पीना  ! और फ़िर कौन किसकी

सुनता है संसद में विवाद और चौराहे पर होने वाली बकैती

 कोई नहीं रोक सकता ? खैर बच्चों को बड़ा इंतज़ार होगा

 इस ट्रेन का :) और हमारे मंत्री -संत्री भी बहती गंगा में हाथ

 धो ही लेंगे , गंगा जी क्या मना करेंगी ! पर उधारी के नाम

 जिनका खून सूख रहा है वो है बिचारी आम जनता

 , जिसने जनरल डब्बे में जिल्लत झेलनी है . काश इन

 डब्बों के उद्धार के बारे में कोई सतरंगी घोषणा हो जाए

 ......काश ..... 

________________ डॉ . प्रतिभा स्वाति