Thursday, 19 December 2013

मेरे चित्र :)























      penting  मुझे  आती  नहीं / पर  ललकता  तो है  मन ! तब मे अपने  हाइकू  के लिए इस तरह के  चित्र  बनाती  हूँ ! और  कभी  इस  तरह  के चित्र  बनाकर / फिर हाइकू बनाती  हूँ ! मेरा  मक़सद  कुछ बनाना है !
सार्थक - सा ! सकारात्मक -सा ! संदेशात्मक  हो ! 
ओह ! मै तो शुरू  ही हो जाती हूँ :)
------------------- thnx 
--------------------------------  डॉ . प्रतिभा  स्वाति
      

9 comments:

  1. आदरणीय आपकी बात से मैं सहमत हूँ , हाइकू और पेंटिंग का मुझे भी ग्यान नहीं हैं , परन्तु समय का सद उपयोग इस कला के द्वारा भी किया जा सकता हैं , जैसे कि हम , जब समय मिलता है तब कुछ लिखना शुरू कर देते हैं , अभी तक जो भी लिखा है , मतलब जो कुछ भी वो आपको मेरे ब्लॉग पे मेरा कोना लेबल पे मिलेगा , धन्यवाद
    ॥ जय श्री हरि: ॥

    ReplyDelete
    Replies
    1. आप इज़ाज़त देंगे तो आपके कोने से भी 1 स्निप अपने इस ब्लॉग पर लाना चाहूंगी / आशीष भाई

      Delete
    2. आदरणीय , आपका सदैव स्वागत है , धन्यवाद

      Delete
    3. so nc of u / thnk u ,so much / asheesh bhai :)

      Delete
  2. Painting ठीक कर लो :)

    अच्छा है !

    ReplyDelete
  3. oh / sr mujhe adob photoshop 7 seekhna h abhi :v

    ReplyDelete